Latest News

Sunday, 27 March 2016

होली पर मस्जिद पर डाला रंग, पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई

बिजनौर/स्योहारा।  होली के मद्दे नज़र प्रशासन की ओर  से लगाये गये सीसी टीवी केमरो में मस्जिद पर रंग डालने वाले के फुटेज को पुलिस प्रशासन कर रहा अनदेखा कर रहा है।  तीन दिन बीतने के बाद भी मस्जिद पर रंग डालने वाले पर अभी तक कोई कारवाही नही हुई है।  इससे मुस्लिम समाज के लोगो में खासी नाराजगी देखने को मिल रही है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर के विभिन मार्गो से होकर गुजरने वाले होली के जुलुस से पहले हर बार की तरह इस बार थाना स्योहारा में दो बार अमन कमेटी की मीटिंग हुई. पहली मीटिंग में थाना अध्यक्ष राजकुमार शर्मा और दूसरी मीटिंग में एसडीएम  धामपुर की मौजूदगी रही.
इन दोनों मीटिंगो में शहर इमाम मौलाना मौह्म्म्द कामिल अंसारी के अलावा डा.एच एस कारला, डा.मनोज कुमार वर्मा, डा.विनीत देवरा, डा.यतदत गोड़, डा.राजबहादुर शर्मा, पूर्व डिप्टी सीओ इक्बालुज्ज्मा, चौधरी फहीम उर्रहमान, अरुण वर्मा, एहसन एडवोकेट, शेंकी रस्तोगी, याकूब सलमानी, पूर्व चेयरमेन अख्तर जलील, तुलाराम चन्द्रा, हाज़ी कदीर मंसूरी, सरदार प्रितपाल सिंह, सरदार अरेंद्र सिंह, सरदार गुरुदीप सिंह, सुहेल अहमद, हाज़ी गफ्फार, महफूज गाज़ी, शसंक रस्तोगी, आरिफ़ गांधी, रिफाकत चौधरी, मुस्तकीम मिम्बर आदि नगर के सभी वर्गो के सम्मानित व्यक्ति भी मौजुद रहे.

 सभी ने शहर की गंगा जमुनी तहजीब को बनाये रखने की बात कही। पुलिस ने भी अपनी तरफ से सभी नगर वासियों को भरोसा दिलाया की होली का जुलुस नगर की दो मस्जिदों के मार्ग पर लगे सीसी टीवी केमरों और अलग से वीडियो ग्राफी के साथ साथ पुलिस फ़ोर्स की भारी तादाद की निगरानी में निकलेगा। ताकि कोई भी व्यक्ति किसी भी तरह की शरारत ना कर सके और जो भी ऐसा करेगा हम उसे केमरों की मदद से चिन्हित कर सलाखों के पीछे पहुंचाएंगे।

होली आई पुलिस भी नज़र आई अमन कमेटी की मीटिंग में शामिल होने वाले कई लोग भी जुलुस में शामिल रहे। वीडियो ग्राफी भी हुई सीसी टीवी केमरे भी चले पर इतना सख्त इंतजाम होने के बाद भी नगर की दो मस्जिद माहिगिरान और मुरादाबाद रोड स्थित तकिये वाली मस्जिद पर जुलुस के रंग वाली गाडियों में सवार हुल्यारो ने  रंग डाला।

क्या हुआ उन सीसी टीवी कैमरों की वीडियो का जब इतने सख्त इंतजामों के बावजूद नगर के भाईचारे को तोड़ने वाले अपने मकसद में कामयाब हो गये। ये तो गनीमत रही मुस्लिम समाज के कुछ जिम्मेदार कीसूझबुझ के चलते मस्जिदों पर रंग डालने वाले के खिलाफ़ पनपे आक्रोस को वो हवा ना मिल पाई और इस गुस्से को दबाने में कामयाब हो गये।

शहर इमाम मौलाना कामिल अंसारी के साथ साथ नगर के सभी मुसलमानों ने होली बीत जाने के तीन दिनों के बाद भी मस्जिदों पर रंग डालने वालो पर पुलिस द्वारा कोई कारवाही नही करने पर कड़ा ऐतराज जताया है।

अपनी नाराजगी में शहर इमाम ने कहा है पुलिस के इतने सख्त इन्ताजामात के बावजूद हमारी मस्जिदों पर रंग डल जाना और जिसने रंग डाला है उसपर कारवाही का ना होना पुलिस की भूमिका पर सवालिया निशान लगाता है।

पुलिस की अपनी इस नाकामी की भरपाई और जवाबदेही तभी खत्म होगी जब पुलिस मस्जिद पर रंग डालने वाले की सीसी फुटेज देख कर उसे सज़ा देगी।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post