Latest News

Saturday, 2 April 2016

गुस्साई महिलाओं ने पुलिस वालों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा







जमशेदपुर (झारखण्ड)। जमशेदपुर के जादूगोड़ा थाना क्षेत्र के डूंगरीडीह निवासी 25 वर्षीय युवक मायस सोरने की गुरुवार को मौत ट्रक से कुचलकर मौत हो गई। इससे नाराज लोगों ने शुक्रवार को जादूगोड़ा चौराहे पर हंगामा किया। वही जब पुलिस जाम को हटाने आई तो महिलाओं ने पुलिसकर्मियों को दौड़ा-दौ़ड़ा कर पीटा और करीब तीन घंटे तक पांच पुलिस वालों को बंधक बना कर रखा।

वहीं मामले की जानकारी मिलते ही डीएसपी अजित विमल, पोटका, कवाली, मुसाबनी, डुमुरिया  सुंदरनगर, गालुडीह के थाना प्रभारी एवं जवानों के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर ग्रामीणों से बातचीत की और उन्हें समझाना का प्रयास दिया। डीएसपी ने ग्रामीणों को 50 हजार कैश और अन्य सरकारी सुविधा दिए जाने का आश्वासन दिया, जिसके बाद ग्रामीणों ने जाम हटाया।

गौरतलब है कि गुरुवार देर रात जादूगोड़ा थानाक्षेत्र में मायस सोरेन की वाहन की चपेट में आने से मौत हो गई। घटना की सूचना पर पुलिस पहुंची और युवक का शव लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। इसके बाद लोग आक्रोशित हो गए। लोगों ने मुआवजे की मांग को लेकर रात से ही सड़क जाम कर दिया और आगजनी कर दी। साथ ही आक्रोशितों ने जादूगोड़ा-हाता, जादूगोड़ा-सुंदरनगर और जादूगोड़ा-मुसाबनी को जाम कर दिया था।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post