Latest News

Friday, 1 April 2016

13 साल की बेटी को किया प्रेग्नेंट, आरोपी बाप की कोर्ट में यूं हुई धुनाई




आगरा। 13 साल की बेटी का यौन शोषण कर प्रेग्नेंट करने के आरोपी पिता को महिला वकीलों ने जमकर पिटाई की। पुलिस शुक्रवार को उसे गिरफ्तार कर दीवानी अदालत परिसर में पेश करने लाई थी। यहां पर पहले से ही महिला वकीलों की भीड़ उसका इंतजार कर रही थी। आरोपी पिता के आते ही भीड़ पीटने लगी। महिला पुलिस न होने की वजह से पुरुष पुलिकर्मी उन्‍हें रोक नहीं पा रहे थे। किसी तरह से पुलिस उसे लेकर सीजेएम अष्ठम के सामने पेश किया। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शाहगंज के ग्यासपुरा में एक 13 साल की लड़की के साथ उसी के पिता उमेश पर रेप का आरोप लगा है। पुलिस के अनुसार, पीड़ित मुनिया (काल्पनिक नाम) 6 माह के गर्भ से है। लड़की ने थाना शाहंगज में बीते बुधवार को पिता के खिलाफ रेप का मुकदमा दर्ज करवाया था।  गुरुवार को पुलिस ने पिता को गिरफ्तार कर लिया। शुक्रवार को पुलिस उसे लेकर कोर्ट नंबर सात में पहुंची, लेकिन यहां पर सीजेएम मौजूद नहीं थे।

यहां से निकलते ही महिला वकीलों ने आरोपी उमेश को पीटना शुरू कर दिया। इसके पहले मोहल्ले के लोगों ने भी उमेश की जबरदस्त पिटाई की थी। 

इसके बाद पुलिस उसे बचाते हुए कोर्ट नंबर आठ में एसीजेएएम वीरेंद्र कुमार की आदलत में ले गई। महिला वकीलों का कहना है कि उमेश ने पिता शब्‍द को कलंकित किया है। उसकी पिटाई होनी चाहिए। थाना हरीपर्वत प्रभारी जेएस अस्थाना ने पिटाई के मसले पर मौजूद पुलिसकर्मियों को फटकार भी लगाई।


पीड़िता के भाई फांसी लगाकर कर चुका है जान देने की कोशिश
4 माह पूर्व अचानक मुनिया का घर से निकलना बंद हो गया। बच्ची का पेट बाहर निकलता देख स्थानीय लोग आपस में चर्चा करने लगे। प्रेग्नेंट होने के बाद पिता और भाई दोनों एक-दूसरे पर रेप का आरोप लगाने लगे। तब भाई ने 29 मार्च को फांसी लगाकर जान देने की कोशिश की, लेकिन उसे बचा लिया गया। फिलहाल उसे एसएन अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 6 माह पहले ही आरोपी भाई की शादी हुई है।

मुनिया ने थाना शाहगंज में पिता के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है। इंस्पेक्टर शाहगंज राजीव सिरोही ने बताया कि एफआईआर में उसने कहा है कि पिता ने उसके साथ बार-बार रेप किया।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post