Latest News

Saturday, 16 April 2016

"एसपी ने तैयार किये पेपर,दरोगा बने परिक्षार्थी -कुल 87 दरोगा परीक्षा में शामिल हुए


देवरिया। थाना चाहिए परीक्षा उत्तीर्ण कीजिये और बन जाइये थाने के एसओ,
देवरिया के एसपी प्रभाकर चौधरी ने थानेदार देने के लिए अनोखी पहल की है। एसपी ने योग्य हाथों में ही थानेदारी रहे इसके लिए अपने स्तर से पुलिस लाइन में एक लिखित परीक्षा कराई।

इस परीक्षा में फेल होने वाले पुलिस वालो से थानेदारी वापस ले ली जाएगी जबकि पास करने वाले को वरियता क्रम के आधार पर तैनाती दी जाएगी।

कुल 87 दरोगा परीक्षा में शामिल हुए

देवरिया के पुलिस लाइन में आयोजित परीक्षा में जिले के 18 थानों में तैनात थानेदारों समेत कुल 87 दारोगा शामिल हुए। 100 नंबर के प्रश्नपत्र में कुल 26 प्रश्न पूछे गए थे जिसमें कुल 25 प्रश्नों के उत्तर देने थे।

इसमें एक प्रश्न थानेदार के लिए अनिवार्य था। थानेदारी की परीक्षा देने आए पुलिस वालो का कहना है कि डियूटी के बाद रात रात जागकर पढ़ाई की गई है।




 परीक्षा के लिए कुल 50 मिनट का समय दिया गया था।

एलआईयू इस्पेक्टर रहे कक्ष निरीक्षक
परीक्षा की शुचिता बनाए रखने के लिए एसपी के पेशकार अशोक पाण्डेय, पीआरओ जवाहर लाल गुप्ता, एलआईयू इंस्पेक्टर डॉ संतोष कुमार सिंह, सीओ लाइन डॉ अजय कुमार सिंह व सीओ सुशील कुमार सिंह को कक्ष निरीक्षक के रूप में तैनात किया गया था।

एसपी ने खुद तैयार किया था प्रश्नपत्र
अपने अनोखे तरीके से पहचाने जाने वाले एसपी प्रभाकर चौधरी ने थानेदारी परीक्षा के लिए खुद प्रश्नपत्र तैयार किए थे। परीक्षा में आए सवालों से आधे से अधिक दरोगा चकरा गए। पुलिस के व्यवाहारिक प्रश्न भी इस प्रश्नपत्र में पूछे गए थे। वही पुलिस का आइक्यू टेस्ट भी प्रश्न पत्र में रहा।







तीन दिन में घोषित होगा परिणाम

देवरिया के एसपी प्रभाकर चौधरी ने बताया कि परीक्षा परिणाम तीन दिनों में घोषित कर दिया जाएगा। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि जो थानेदार इस परीक्षा में फेल होगा उससे थानेदारी ले ली जाएगी और उसकी जगह परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले दारोगा को वरियता क्रम के आधार पर तैनाती दी जाएगी।।।।।।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post