Latest News

Monday, 18 April 2016

चमड़े का कारोबार करने वाले गौकशी करते हैं, बदनाम होता है मुसलमान


आगरा। गाय के नाम पर अक्सर मुस्लिमों को टारगेट करने वाले राजनेताओं को अब कोई और बहाना ढूंढना होगा। इससे पहले भी कई गाय प्रेमी मुस्लिम किसान ने ये साबित कर दिया है कि गायों से प्यार केवल हिंदुओं को ही नहीं, बल्कि उन्हें भी है। इसी को लेकर आज आगरा के जनकवि मियां नजीर की समाधि पर मुस्लिम समाज ने गौवंश की रक्षा के लिए शपथ ली। इस दौरान मुस्लिमों ने शपथपत्र भी भरे। शपथ कार्यक्रम में योग गुरु स्वामी विवेकाचार्य ने मुस्लिमों को संकल्प दिलाया। इस कार्यक्रम में कांग्रेस के नेता इब्राहीम हुसैन जैदी भी मौजूद थे।

वहीं जैदी ने गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित किए जाने की मांग की। उन्होंने कहा कि, जो गाय के चमड़े का व्यापर चल रहा है उसे बंद कर दिया जाना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम आगे भी चलाए जाते रहेंगे। कांग्रेस नेता ने कहा कि, नेपाल में भी गाय राष्ट्रीय पशु है।

इससे वहां गाय की रक्षा की जाती है सरकारी स्तर पर। गाय के चमड़े के लिए होती है गौकशी उन्होंने बताया कि गाय के चमड़े का व्यापार करने वाले गौकशी करते हैं। बदनाम मुस्लिम होते हैं। गाय का मांस कम खाते हैं। गौकशी में पूरा गिरोह काम कर रहा है। हिन्दू भाई गाय के चमड़े के जूते पहनना बंद करें। गाय की रक्षा के लिए जरूरी है।

चादर चढ़ाई गई। कार्यक्रम की शुरुआत में मुस्लिम समाज के लोगों ने मियां नजीर की मजार पर फूलों की चादर चढ़ाई। इसके बाद स्वामी विवेकाचार्य द्वारा योग की विभिन्न क्रियाओं से इन लोगों को रूबरू कराया गया। साथ ही बताया कि योग से किस प्रकार निरोग रहा जा सकता है। स्वामी विवेकाचार्य ने बताया कि गाय का काम करने मात्र से आधे रोग दूर हो जाते हैं।

गौ रक्षा संकल्प कार्यक्रम में कांग्रेस नेता इब्राहिम हुसैन जैदी, गुलाम मोहम्मद बख्शी, मौलाना इश्तियाक, सज्जाद हैदर, शौकत अली, अब्दुल सत्तार, शौकीन कुरैशी, रामप्रकाश बघेल, बृजमोहन आदि मौजूद रहे। भाजपा नेता अश्वनी वशिष्ठ ने बताया कि मुस्लिम समाज की इस पहल का स्वागत है। उन्हें हम हर तरह का सहयोग करेंगे।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post