Latest News

Friday, 15 April 2016

यूक्रेन से मुरादाबाद पहुँचा छात्र का शव परिवार मे मचा कोहराम

क्राइम अपडेट मोहम्मद आलम -मुरादाबाद
शनिवार को यूक्रेन के उझगोरोद शहर में MBBS की पढाई कर रहे तीन छात्रों पर जानलेवा हमला किया गया था । इस हमले में दो छात्रों की मौत हो गई थी जबकि एक छात्र का इलाज यूक्रेन के अस्पताल में चल रहा है । आज दोपहर सिविल लाइन्स की चक्कर की मिलक इलाके में मृत छात्र अंकुर का शव पहुंचा । अंकुर की लाश पहुँचते ही घर में कोहराम मच गया । आपको बता दें की इन छात्रों में एक मुजफ्फरनगर का प्रणव , एक आगरा का इंद्रजीत जिसका इलाज चल रहा है जबकि मुरादाबाद के अंकुर की लाश आज घर पहुंचाई गई । अंकुर की पढाई 3 महीने बाद ख़त्म ही रही थी और वो डॉक्टर बनकर वापस आनेवाला था । इस पढाई अंकुर के घरवालों ने 30 लाख से ज्यादा का खर्च किया था और अंत में उनकी सारी उम्मीदें आंसू बनकर बह गईं ।
आज अंकुर के पापा ने घायल छात्र इंद्रजीत पर अपना शक ज़ाहिर किया की आखिर उसे क्यों ज्यादा चोट नहीं लगी जबकि दो लोगों की मौत हो गई । उन्होंने यूक्रेन सरकार से भी सवाल किया की आखिर उनके बेटे का सामान क्यों नहीं भेज गया जिसे वो अपने बेटे की याद के तौर पर रख लेते । उन्होंने यह भी कहा की यूनिवर्सिटी में आखिर विदेशी छात्रों की सुरक्षा के इंतज़ाम क्यों नहीं है । उन्होंने केंद्र सरकार का शुक्रिया अदा किया जिसकी वजह से उनके बेटे की लाश घर तो आ गई । लेकिन उन्होंने इस बात पर अफ़सोस जताया की प्रदेश या केंद्र सरकार का कोई भी प्रतिनिधि यहाँ नहीं आया जबकि एक मजिस्ट्रेट साथ में भेजने की बात कही गई थी । फिलहाल बिशन सिंह जी अभी अपने दुःख से जल्दी तो नहीं उबार पाएंगे लेकिन उनके जज़्बे को सलाम है जो वो अब अपनी तरफ से एक मुकदमा दायर करना चाहते हैं जिससे आगे किसी छात्र के साथ ऐसा न हो सके । आज उन्होंने जो सवाल उठाया की जब तीन में से एक बच्चे का पासपोर्ट यूनिवर्सिटी में जमा था और कमरे में सिर्फ दो ही बच्चों के पासपोर्ट थे तो पुलिस ने तीसरा पासपोर्ट किसका बरामद किया है । गौरतलब है की यूक्रेन पुलिस ने इस मामले में अब तक एक महिला समेत 5 लोगों को गिरफ्तार किया है और उनके पास से 3 पासपोर्ट बरामद किये हैं । अब आगे की जांच पूरी होने और आगरा के छात्र इंद्रजीत को होश आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post