Latest News

Thursday, 21 April 2016

MBBS की परीक्षा में ताबीज कराता है नैया पार, पूरे देश में मचा हड़कंप


बहुचर्चित फिल्म 'मुन्नाभाई एमबीबीएस' में मेडिकल छात्र मुरली प्रसाद शर्मा (संजय दत्त) को आपने कान में हेडफोन लगाकर परीक्षा में नकल करते करते हुए जरूर देखा होगा, लेकिन समय के साथ नकलचियों के लिए वह तरीका पुराना हो चुका है. बढ़ती तकनीकी के दौर में कान के टॉक्स और ताबीज जैसे कई उपकरण आ चुके हैं, जिनकी मदद से अब छात्र तो क्या छात्राएं भी नकल करने में पीछे नहीं रहीं.

ताज्जुब की बात यह है कि हाल ही में मुन्नाभाई एमबीबीएस फिल्म की तर्ज पर ही एमबीबीएस परीक्षा में ही नकल का अनोखा मामला सामने आया है. बस, इसमें नए जमाने की डिवाइस का इस्तेमाल किया गया. प्रदेश १८ की रिपोर्ट के अनुसार पं. खुशीलाल शर्मा आयुर्वेद कॉलेज में दोपहर दो बजे से पांच बजे की शिफ्ट में चल ही एमबीबीएस की परीक्षा में बरकतउल्ला यूनिवर्सिटी से चेकिंग के लिए उड़नदस्ता पहुंचा था.

उड़नदस्ते ने परीक्षा हॉल में राउंड लगाए और बाहर चले गए. इसी बीच टीम का एक सदस्य दोबारा हॉल में राउंड लगाने पहुंच गया, जहां शांत हॉल में उसे फुसफसाने की आवाज सुनाई दी. इसकी जानकारी उसने उड़नदस्ते के अन्य सदस्यों को दी. इसके बाद आधा दर्जन से ज्यादा छात्रों की तलाशी ली गई, लेकिन कुछ भी नहीं मिला.

नकल के संदेह में उड़नदस्ता टीम की महिला सदस्य ने टॉयलेट में ले जाकर लड़कियों की चेकिंग करना शुरू की, जहां उसने पाया कि एक छात्रा ने गले में ताबीज और कान में मोती के आकर की बालियां पहनी हुईं थीं. शक होने पर ताबीज और बाली को टटोला तो वह अवाक रह गई, क्योंकि ताबीज में मैमोरी कार्ड चिप और बालियों में माइक्रो स्पीकर लगे हुए थे.
पूछताछ में छात्रा ने उड़नदस्ता टीम को बताया कि वो अकेली नहीं, उसके जैसे दस से ज्यादा छात्रा-छात्राएं लगातार इसी तरह नकल करते आ रहे हैं. हालांकि, फ्लाइंग टीम ने छात्रा के खिलाफ नकल प्रकरण बना दिया है. वहीं, तकीनीकी विशेषज्ञों की मानें तो चेकिंग करके नकल रोकना बहुत कठिन है, इसलिए शिक्षण संस्थानों में जैमर लगाना बहुत जरूरी है.

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post