Latest News

Wednesday, 4 May 2016

बच्चे लाते थे कस्टमर, दरवाजा काटकर निकाली गईं लड़कियां, जिस्मफरोशी मे लिप्त 75 से अधिक लड़की कराई मुक्त


इलाहाबाद. थाना कोतवाली के रेड लाइट एरिया मीरगंज में रविवार (01 मई) को पुलि‍स छापेमारी में सेक्‍स रैकेट का भांडाफोड़ हुआ। इसमें करीब दो सौ मकानों से जि‍स्‍मफरोशी में लिप्त 75 से अधिक लड़कियों को मुक्त कराया गया। इनमें कई शादीशुदा हैं और उनके बच्‍चे भी हैं। बच्‍चों का इस्‍तेमाल कस्‍टमर को बुलाने में कि‍या जाता था। कि‍तने लोग पकड़े गए...  


इस कार्रवाई में 45 कोठा संचालिकाओं सहि‍त 10 पुरुष पकड़े गए। पुलिस ने मकानों को सील कर उनके मालि‍कों पर कार्रवाई की है। आजादी के पहले से इस एरि‍या में यह कारोबार जारी था। यहां अब तक की यह बड़ी छापेमारी है। इसमें बड़ी संख्‍या में बच्‍चे और कुछ संदिग्ध सामान बरामद हुए हैं। पुलिस सभी एंगल से जांच कर रही है।


हाईकोर्ट में डाली गई थी याचि‍का
इस कारोबार को रोकने के लि‍ए इलाहाबाद हाईकोर्ट में स्‍थानीय समाजसेवी सुनील चौधरी ने जनहित याचिका दायर की थी। उस पर सुनवाई के बाद कोर्ट ने जिला प्रशासन से इसकी रिपोर्ट तलब की थी। हलफनामे में प्रशासन ने वहां ऐसे कारोबार से इनकार किया था। सुनवाई की अगली तारीख रखी गई थी। उसके पहले ही यहां पुलि‍स ने कार्रवाई कर दी। इसमें हकीकत सामने आ गई।


गैस कटर से काटे गए दरवाजे
यहां पुलि‍सि‍या कार्रवाई की खबर सुनते ही लड़कियों ने अपने को घरों में बंद कर लिया था। उन्‍हें बाहर नि‍कालने के लि‍ए अधि‍कारि‍यों को कड़ी मशक्‍कत करनी पड़ी। कई घरों के दरवाजेे गैस कटर से काटकर लड़कियों को बाहर निकाला गया।


हर छह महीने में बदल जाती थी लड़की
इस इलाके की जानकारी रखने वाले कहते हैं कि‍ हर छह महीने में यहां की लड़कियों को दूसरे राज्‍य की रेड लाइट एरि‍या में भेज दि‍या जाता था। उनकी जगह अन्‍य स्टेट के रेड लाइट इलाके की लड़की लाकर रखी जाती था। ऐसा कस्‍टमर को हमेशा नई लड़की उपलब्‍ध करवाने और पहचान छि‍पाने के लि‍ए कि‍या जाता था।


नारी नि‍केतन भेजी गईं लड़कि‍यां
इलाहाबाद के एसएसपी केएस इमैनुअल ने कहा है कि‍ पकड़ी गई सभी लड़कि‍यों को रातोंरात कानपुर के नारी नि‍केतन भेज दि‍या गया है। उनके साथ बरामद बच्‍चों को इलाहाबाद के बाल सुधार गृह भेजा गया है। अन्‍य आरोपि‍यों को जेल भेजा जा रहा है।  


बड़ी संख्‍या में मौजूद थे पुलि‍सकर्मी
यह कार्रवाई डीएम और एसएसपी के आदेश पर हुई। इसमें सामाजिक संस्था गुड़िया के कई अधि‍कारी, कई थानों की फोर्स के अलावा एडीएम सि‍टी और 5 मजिस्ट्रेट लगाए गए थे। इसमें पुलिस के कई थानों की फोर्स, एसपी सि‍टी, 31 एसओ, 15 महिला एसआई, 300 कॉन्स्टेबल, 150 महिला कॉन्स्टेबल अलावा कई अन्य लोग मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post