Latest News

Tuesday, 3 May 2016

बेटे को क़ब्र से निकालने की लगाई गुहार ,कहा क़ब्र मे रोता है बेटा


मेरठ।  मां बाप के लिए उसके बच्चे से बढ़कर कुछ नहीं होता है. अपने बच्चे की परवरिश के लिए वे जी जान लगा देते हैं. लेकिन एक दिन वही बच्चा अगर आपको छोड़ कर चला जाए तो कैसे कलेजे के टुकड़े हो जाते होंगे ये दुख तो वही समझ सकते हैं जिन्होंने ये दर्द सहा होगा. मां को तो बच्चे के सबसे करीब समझा जाता है लेकिन बाप भी अपने बच्चे को उतना ही प्यार करता है. बात बस इतनी है कि वो अपने कलेजे के साथ ऐसे नहीं चिपका कर रखता जैसे एक मां रखती है. ऐसी ही एक कहानी है उस बाप की जिसने अपने बेटे को खो दिया और इस बात स्वीकार करने में उसका दिल साथ नहीं दे रहा है. सबसे बड़ी बात तो यह है कि इस बात को लेकर वो पुलिस के पास चला गया और वहां जाकर अपनी व्यथा सुनाई.

पिता ने रोते हुए कहा कि एसपीसाहब! मेरे बेटे की बीमारी से मौत हो गई थी. हमने उसे सुपुर्द-ए-खाक कर दिया था. लेकिन वो अब भी जिंदा है. मैं आपको बता सकता हूं साहब कि वो अभी मरा नहीं है अभी भी वहां उसकी कब्र से उसके गुनगुनाने की आवाज आती है. मैं चाहता हूं कि बेटे के शव को कब्र से निकलवाकर इसकी जांच कराई जाए. जब सोमवार को एसपी देहात ने ये अजीबो गरीब बात सुनी तो वे हैरान रह गए. हालांकि एक पिता की लिखित मांग पर शव को कब्र से निकलवाने की प्रक्रिया शुरू करा दी गई है.
प्रदेश १८ की रिपोर्ट के अनुसार मामला मेरठ के इंचौली थानाक्षेत्र के जलालपुर गांव का है. सबीरूद्दीन के बेटे इरफान (32) की बीमारी के चलते 28 अप्रैल को मौत हो गई थी. सबीरूद्दीन का दावा है कि कब्र से इरफान के गुनगुनाने की आवाज आती है. पहले उसे इस बात पर विश्वास नहीं हुआ था लेकिन जब गांव के कुछ और भी लोगो नें उसे ये बात बताई तो सबीरूद्दीन को विश्वास हो गया कि जरूर उसके बेटा कुछ कहना चाहता है. इसलिए सबीरूद्दीन ने कब्र से इरफान का शव निकलवाने का फैसला किया.
सोमवार को सबरूद्दीन और ग्रामीणों ने एसपी देहात डॉ. प्रवीन रंजन को प्रार्थनापत्र देकर कब्र से शव निकलवाने की मांग की. एसपी देहात ने उन्हें समझाया कि मामला प्रशासनिक अधिकारियों का है. डीएम की परमीशन से कब्र से शव निकलता है. सबरूद्दीन ने कहा कि एक प्रार्थना पत्र डीएम ऑफिस में दिया है. बताया गया कि कब्र से शव निकलवाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है.
एसपी देहात की बात सुनकर इरफान के परिजन और ग्रामीण बोले कि हम कानूनी प्रक्रिया से काम कराना चाहते है. नहीं तो हम खुद भी कब्र खोदकर देख लेते कि आखिर गुनगुनाने की आवाज कहां से आती है. पुलिस ने प्रक्रिया शुरू कर दी है.

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post