Latest News

Monday, 9 May 2016

मुस्लिम बृद्ध को दफनाने के लिये हिन्दू भाई ने जगह देकर की मिसाल कायम


ग्रेटर नोएडा । जहाँ देश में एक तरफ असहिष्णुता को लेकर बहस छिड़ी हुई है वहीँ एक मृतक मुस्लिम बृद्ध को दफन करने के लिए एक हिन्दू व्यक्ति व्यक्ति द्वारा ज़मीन देने का मामला प्रकाश में आया है । मृतक मुस्लिम बुज़ुर्ग को दफन करने के लिए ज़मीन न मिलने से 24 घंटो तक शव यूँ ही रखा रहा ।





नोएडा के इलाहाबास गांव में मुस्लिम समुदाय के एक बुजुर्ग का शव 24 घंटे तक इसलिए पड़ा रहा, क्‍योंकि उन्‍हें दफनाने के लिए दो गज जमीन भी नहीं थी। नोएडा फेज-2 पुलिस के मुताबिक, शनिवार को गांव में रहने वाले 65 वर्षीय महमूद का निधन हो गया था।

परिजन उन्हें दफनाने ले जा रहे थे, तभी महावीर सिंह नामक शख्स ने अपनी जमीन पर शव दफनाने को लेकर आपत्ति जता दी। उन्‍होंने कहा कि उनके पूर्वजों ने खाली पड़ी 1200 वर्ग मीटर जमीन पर अस्थायी रूप से दफनाने की इजाजत दी थी।

जमीन के मालिकाना हक को लेकर वह कोर्ट में गए थे, जहां से उनके हक में फैसला आया। महावीर के जवाब के बाद महमूद के परिजन शव घर ले गए और 24 घंटे तक शव को बर्फ के सहारे रखा। महमूद के रिश्‍तेदार शमीउद्दीन ने बताया कि इसकी जानकारी जब सिटी मैजिस्ट्रेट बच्चू सिंह समेत पुलिस प्रशासन को लगी तो गांव में भीड़ बढ़ने लगी।

बातचीत के बाद गांव के ही राजेंद्र प्रधान ने अपनी 1000 वर्ग मीटर जमीन कब्रिस्तान के लिए मुस्लिम समुदाय को दान कर दी। सिटी मैजिस्ट्रेट ने कहा कि कब्रिस्तान के लिए जमीन दान दिए जाने से मसला सुलझ गया है। शव दफनाने को लेकर गांव में एक बार तो तनाव पैदा हो गया, लेकिन राजेंद्र प्रधान के जमीन दान करने से पूरा मसला सुलझ गया।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post