Latest News

Monday, 2 May 2016

देवबंदी था दूल्हा इसलिए निकाह पढ़ाने से किया इन्कार


मुरादाबाद/ठकयरद्वारा - बरेलवी मसलक के एक इमाम ने आज देवबंदी दूल्हे का निकाह पढ़ाने से इंकार कर दिया। इस पर जमकर कहासुनी हुई। इमाम ने मस्जिद से इस्तीफा दे दिया है।
जनपद बिजनौर के एक गांव से रविवार को ठाकुरद्वारा बारात आयी। दूल्हा देवबंदी मसलक से ताल्लुक रखता है, जबकि दुल्हन का परिवार बरेलवी मसलक से। बरेलवी मसलक के इमाम निकाह पढ़ाने पहुंचे। जानकारी के मुताबिक इमाम ने दूल्हा देवबंदी होने के कारण निकाह पढ़ाने से इंकार कर दिया।


इस पर दुल्हन के परिजन भड़क गए और जमकर कहासुनी हुई। इस पर इमाम ने मस्जिद से इस्तीफा दे दिया। इसके बाद घंटों चली कशमकश के बाद दूसरे इमाम ने निकाह पढ़ाया।
उधर निकाह से इंकार करने वाले इमाम से जब  मामले की जानकारी के लिए कॉल किया तो वह बोले कि उन्होंने निकाह पढ़ाने से मना किया है। वजह पूछने पर उन्होंने वजह नहीं बतायी। इस्तीफे के बारे में पूछने पर उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि- हां मामला अभी Pending है।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post