Latest News

Tuesday, 3 May 2016

मंच से टोपी पहनने से इनकार करने वाले मोदी ने आखिरकार पहना मुस्लिम साफा


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीर के रोज़ अजमेर शरीफ दरगाह के पीर सैयद फख्र काजमी चिश्ती के साथ नई दिल्‍ली में मुलाकात की। पीएम मोदी ने अपने टि्वटर अकाउंट पर इसकी तस्‍वीर भी पोस्‍ट की है, जिसमें वह अजमेर शरीफ दरगाह प्रतिनिधिमंडल के साथ साफा पहने खड़े नजर आ रहे हैं।Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इससे पहने पीएम मोदी ने कभी भी मुस्लिम पहचान की कोई निशानी को नही अपनाया है लेकिन लगता है उनका ह्रदय परिवर्तन हो गया है क्युकी अजमेर शरीफ़ के दरगाह के पीर के साथ जो फ़ोटो ट्विटर पे अपडेट की है उसमे वो मुस्लिम साफा पहने नज़र आ रहे है
खबर है कि ख्वाजा मोइनुद्दीन दरगाह के पीर सैयद फख्र काजमी चिश्ती ने पीएम नरेंद्र मोदी को दरगाह पर जियारत का निमंत्रण भी दिया है।
इस दौरान दरगाह प्रतिनिधिमंडल ने पीएम मोदी की दस्तारबंदी की और दरगाह का तबर्रुक उन्‍हें भेंट किया। प्रतिनिधिमंडल में शामिल सैयद रागिब चिश्ती ने मोदी को शॉल भेंट की।
काजमी ने बताया कि पीएम मोदी ने उन्हें आश्वस्त किया है कि वह जल्द ही अजमेर शरीफ आने वाले हैं। काजमी के साथ गए प्रतिनिधिमंडल में काजमी और रागिब के अलावा सैयद अख्तर रजा चिश्ती, सैयद अकरम हुसैन चिश्ती और सैयद जीशान चिश्ती आदि शामिल थे।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अप्रैल 2015 में अजमेर शरीफ दरगाह पर चढ़ाने के लिए चादर भेजी थी। पीएम की ओर से केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने यह चादर चढ़ाई थी। आपको बता दें कि नरेंद्र मोदी जब गुजरात के सीएम थे, तब सद्भावना के कार्यक्रम में एक मौलाना ने उन्‍हें टोपी पहनाने की कोशिश की थी। उस वक्‍त मोदी ने इनकार कर दिया था। इस मुद्दे को लेकर काफी बहस हुई थी।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post