Latest News

Tuesday, 24 May 2016

असिस्टेंट मैनेजर को लोगो के खाते से पैसा उड़ाना पड़ा भारी, खुली पोल



मुरादाबाद : प्रथमा बैंक के एक सहायक प्रबन्धक का दुस्सासिक कारनामा सामने आया है। आसिस्टेंट मैनेजर ने अपने पद का दुरूप्योग करते हुए अपनी ब्रांच के ग्राहकों के खातों से रकम उड़ा दी। वह चुपके से ग्राहकों के एकाउंट से अपनी पत्नी और बेटे के एकाउंट में रकम ट्रांसफर करता रहा। दो-दो हजार करके ऐसा कई बार किया लेकिन एक बार एक ग्राहक के आरटीजीएस से आए छह लाख रूपये उसने एक बार में ही उड़ा दिया असिस्टेंट मैनेजर का खेल पकड़ में आ गया। शुक्रवार को उसे बर्खास्त कर दिया गया है।

रामगंगा विहार निवासी संजीव कुमार गुप्ता प्रथमा बैंक क्लर्क था। प्रमोशन देकर उसे आसिस्टेंट मैनेजर बना दिया था। संजीव कुमार को भगतपुर क्षेत्र में प्रथमा बैंक की मानपुर ब्रांच पर असिस्टेंट मैनेजर बनाकर भेजा गया था। लेकिन संजीव ने यहां अपना खेल शुरू कर दिया। बैंक के अर्से से बन्द पडे़ सस्पेंड खातों से उसने रकम उडानी शुरू की। बैंक मेनेजर की आईडी का दुरूपयोग करके उसने थोडा-थोडा करके इन खातों से 40 हजार रूपये उड़ा दिये संजीव गुप्ता ने एक ग्राहक के आरटीजीएस के थ्रू आए 6 लाख रूपये अपने पत्नी और बेटे के खाते में ट्रांसफर कर दियें। 6 लाख रूपये की हेरा फेरी का मामला सामने आने के बाद संजीव के खिलाप जांच बैठा दी और उसे गजरौला में अल्लीपुर चौपला ब्रांच पर ट्रांसफर कर दिया । इस बीच विभागीय जांच में दोषी पाए जाने पर बैंक ने संजीव से ग्राहकों के खातों से उडा़ई गई पूरी रकम की रिकवरी कर ली। इसके बाद प्रथमा बैंक के चेयरमैन एसएस अरोड़ा ने असिस्टेंट मैनेजर संजीव को नौकरी से बर्खास्त कर दिया है।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post