Latest News

Monday, 16 May 2016

आजमगढ़ मे सम्प्रदायिक तनाव,भाजपाई गिरफ्तार


आजमगढ़।  आजमगढ़ में सांप्रदायिक हिंसा के बाद जांच के लिए जा रही बीजेपी की कमेटी को  बाराबंकी पुलिस ने कस्‍टडी में ले लिया है। इस कमेटी में यूपी के पूर्व डीजीपी ब्रजलाल और पूर्व आईजी डीके राय भी शामिल थे।  बाराबंकी पुलिस को बीजेपी कमेटी के आजमगढ़ जाने की सूचना मिली थी।
इसके बाद पुलिस ने नाकाबंदी शुरू कर दी। थाना जैदपुर इलाके में स्थित अहमदपुर टोल प्लाजा पर पुलिस ने इन लोगों को कस्‍टडी में ले लिया। फिलहाल इन्‍हें  पुलिस लाइन लाया गया है।


न्यूज़ ट्रैक की रिपोर्ट के अनुसार आजमगढ़ में रविवार को भी हालात तनावपूर्ण रहे। कई जगह फिर हिंसा हुई। सरायमीर में लोगों ने जाम लगा दिया। इस दौरान आगजनी भी हुई। एक वाहन को तोड़कर चालक को पीटा गया। एसएसपी के अनुसार कई लोगों को अरेस्‍ट किया गया है। उन्होंने बताया कि दो लोगों के खिलाफ एफआईआर के बाद हिंसा भड़की थी। वहीं, सभी स्कूलों-कॉलेजों को अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। बड़ी तादाद में पीएसी और पुलिस तैनात की गई है।

क्या है मामला?
शनिवार को दो पक्षों के बीच झड़प के बाद हिंसा हुई थी। इस दौरान दंगाइयों ने फायरिंग भी की थी। फायरिंग में सीओ सिटी केके सरोज के हाथ में गोली लगी थी। एसडीएम और तहसीलदार समेत कई अफसर इस दौरान घायल हुए थे।
रविवार को आईजी ने मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। देर शाम माहौल फिर खराब हो गया, कुछ लोगों ने खोदादादपुर नहर पर प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस पर सरायमीर में भी मुस्लिम समुदाय के लोगों ने जाम लगा दिया। इस दौरान टायर आदि जलाकर सड़क पर आगजनी की गई। बनगांव में उपद्रवियों ने एक आरा मशीन और एक जनरल स्टोर को फूंक दिया।
सरायमीर की घटना की जानकारी मिली तो दूसरे समुदाय वालों ने खनियरा में जाम लगाया। दोनों जगह बड़ी तादाद में पुलिस पहुंची और लोगों को भगाया। शाम 6 बजे नंदाव में भी जाम कर विरोध प्रदर्शन का प्रयास किया गया। बाद में फरिहां कस्बे में पुलिस ने हवाई फायरिंग और लाठीचार्ज किया।
शनिवार को हुआ था बवाल

मामूली विवाद को लेकर खोदादादपुर में शनिवार रात सांप्रदायिक हिंसा भड़की थी। इस दौरान सीओ, एसडीएम और तहसीलदार सहित दर्जनभर पुलिसकर्मी घायल हुए। आम लोगों को भी चोटें आईं। भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे। लाठीचार्ज व हवाई फायरिंग के बाद किसी तरह हालात पर काबू पाया जा सका था।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post