Latest News

Thursday, 7 July 2016

बेशर्म अधिकारियों ने 12 करोड़ की लागत से बने बांध के ऊपर बनी सड़क धसने के मामले मे बता रहे चूहों को जिम्मेदार


मुरदाबाद : लखनऊ के पुल में छेद का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि मुरादाबाद में भी गागन नदी में बना बंधा कई जगह से धंस गया है। 12 करोड की लागत से बने बांध के उपर बनी सडक कई जगह से बुरी तरह धंस गई है। वहीं जगह-जगह बड़े-बड़े गढढे हो गये हैं। विकास प्राधिकरण के अधीकारियों और इंजिनियरों ने इस बंधे पर सडक बनाने में जमकर कमीशन खाया। जिसके कारण ये बंधा पहली बरसात भी नहीं झेल सका। वहीं बंधे पर बनी सड़क अभी कुछ मांह पहले ही बनी है। यहां हैरानी की बात ये है कि विकास प्राधिकरण के बेशर्म अधिकारी बंधे को चूहों के कुतरने से धसा होना बता रहे हैं।
मुरादाबाद में गागन नदी पर 12 करोड़ की लागत से बना बंधा मुरादाबाद विकास प्राधीकरण के अधीकारियों के भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया है। मानसून के शुरुआत में ही बंधा कई जगह से धंस गया है। वहीं उसके उपर बनी सडक में कई जगह बड़े-बड़े गढढे हो गये हैं। बांध के उपर बनी सड़क को बनाने में प्राधीकरण के अधीकारियों और इंजिनियरों ने जमकर कमीशन खाया जिसका खामियाजा किसी भी दिन आम जनता को भुगतना पड सकता है। बांध के उपर कुछ माह पहले बनी सड़क जगह-जगह से अचानक धंस गई है। वहीं विकास प्राधिकरण के बेशर्म अधिकारी इस सब के लिये चूहों को जिम्मेवार ठहरा रहे हैं। यानि 12 करोड़ की लागत से बने बांध और सड़क को जो नुकसान हुआ है वो चूहों ने किया है। वहीं मुरादाबाद विकास प्राधिकरण के चीफ इंजीनियर इंदु शेखर ने एक बेतुका बयान दिया है, उन्होंने कहा कि जो सड़को में गड्ढे हुए है वो चूहों के बनाये बिलों के द्वारा हुए है।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post