Latest News

Friday, 26 August 2016

कॉपी पेन की जगह मासूमो के हाथ में थमा दिया मेहनत मजदूरी का काम।


मुरादाबाद के भगतपुर क्षेत्र के गांव दोलपुरी वमनिया में सोमवती मेमोरियल जूनियर हाइस्कूल बच्चों को शिक्षा देने के बजाय मासूम बच्चों से करा रहा है मेहनत मजदूरी का काम करा रहा है। मासूम बच्चे गर्मी में पढ़ने के लिए घर से आते है और स्कूल में उन्हें ईंट पत्थर ढोने का काम अध्यापक बड़ी आसानी से दे देते है। ऐसे में बच्चों को  शिक्षा की जगह मेहनत मजदूरी करने के काम की ट्रेनिंग स्कूल दे रहा है। और मासूमो को डांटकर कराया जाता है हर दिन काम मासूम अध्यापक की डांट और पिटाई के डर से ईंट पत्थर ढोने के लिए मजबूर हो जाते हैं।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post