Latest News

Thursday, 8 September 2016

मुरादाबाद-प्रथमा बैंक मे गरीब किसान से धोखाधड़ी करके निकाले 14 हज़ार,बैंक कर्मीकर्मी शक के घेरे मे


किसान के धोखाधड़ी  करके चौदह हजार रुपये  निकाले प्रथमा बैंक से ।बैक कर्मचारियों पर जताया शक ।मैनेजर ने जांच के नाम पर ब धमकी देकर  टरकाया ।

मुरादाबाद (मोहम्मद अली) थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत बेरखेड़ा चक मे स्थित प्रथमा बैंक मे यू तो आये दिन किसी न किसी घोटाले को लेकर विवाद होता रहता है ।आज बृहस्पतिवार को ग्राम पंचायत पाड़ली बाजे के दर्जनों किसान प्रथमा बैंक बेरखेड़ा चक पहुंचे और प्रथमा बैंक के कर्मचारियों के खिलाफ नारे बाजी करते हुए आरोप लगाया कि किसान छिददा सिंह पुत्र हीरा ने अपने बच्चो ब खेती के पालन पोषण के लिए प्रथमा बैंक से क्रेडिट कार्ड बनवाया था और  उसमे साठ हजार रुपये का लोन कराया था तब जरूरत के एतबार से किसान छिददा सिंह ने दो बार मे दस हजार ब वीस हजार रुपये निकाले थे और  उसके खाते मे तीस हजार रुपये जमा थे ।तब  आज किसान ने भैंस खरीदी थी जिसके लिए किसान को तीस हजार रुपये की जरूरत थी तब आज वृहस्पतिवार को  किसान ने तीस हजार रुपये निकालने के लिए प्रथमा बैंक मे आये और प्रथमा मे तीस हजार रुपये लेने का फार्म भरा तब किसान की किताब देखकर बैक कर्मचारियों ने कहा कि इसमे तो तीस हजार रुपये का बैलेंस ही नही है इसमे तो बस पन्द्रह हजार रुपये निकाले जा सकते है तब किसान ने कहा कि  उसके खाते मे तो तीस हजार रुपये है तब बैंक कर्मचारीयो ने किसान को धमकाया तथा बैंक से बाहर निकाल दिया तब किसान ने अपने गांव पाड़ली बाजे को फोन किया तब पाड़ली के दर्जनों किसान मौके पर आये बैक कर्मचारियों के खिलाफ नारे बाजी की तब मीडिया के लोगो के पहुंचने के बाद  बैंक मैनेजर  अतर सिंह ने पहले तो किसान की सुनी ही नही और टालने का प्रयास किया परंतू मीडिया कर्मीयो को देखकर बैक मैनेजर ने कहा कि चार दिन के बाद बैक की फुटेज देखकर कार्यवाही का आश्वासन देकर टरका दिया ।किसान डरकी बजह से घर चले गए ।

      किसान छिददा सिंह  ने बताया कि  उसके चौदह हजार रुपये बैक से निकाल लिये है धोके से तथा यह भी आरोप लगाया कि आज जब रुपये निकालने के लिये आया तब पहले तो किसान की जबरदस्ती के साथ  किताब पूरी करदी गई और फिर धमकाया गया और फिर  उनके रुपये बापस करने का लालच भी दिया गया ।जिससे जाहिर होता है कि पैसे निकालने जाने मे बैक कर्मचारियों की पूरी सांठगांठ है ।
       बैंक मैनेजर अतर सिंह ने बताया कि  इन किसान  लोगो ने शिकायत की है कही कुछ गलती हुई है जो कि फुटेज देखकर जांच की जाएगी ।
         पाड़ली बाजे के किसानो ने यह भी आरोप लगाया कि पहले भी उनकी गांव की एक लड़की के खाते से चार हजार रुपये निकाले जा चुके है ।
   और बैक मैनेजर पर  आरोप लगाते हुए कहा कि बैक मैनेजर ने  उनके गांव के सुसील बाल्मीकि का एक लाख रुपये का लोन किया था और  उसको मात्र चालिस हजार रुपये ही दिये थे बाकी के  बैक कर्मचारियों ने ही निकाल लिये ।और यह भी आरोप लगाया कि बैक मे कई लोग प्राइवेट रख रखे है और  उनके द्वारा लोन लेने बालो ब सीधे लोगो के खातो से धन निकलवाते है  इसी तरह के कई अन्य  आरोप भी लगाये गये है बैक मैनेजर के खिलाफ  ।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post