Latest News

Sunday, 11 September 2016

एक के बाद एक प्रेमी ने दिया धोखा तो छात्रा ने लगाया मौत को गले


ग्वालियर। एक लड़की ने अपने सिर में गोली मार सुसाइड कर लिया। घटना को अंजाम देने से पहले उसने भाई को सब्जी लेने बाजार भेज दिया। उसने 6 लाइन का सुसाइड नोट लिखा है, जिसमें अपने दो BF के धोखे की कहानी लिखी है।

गोली की आवाज सुनकर लोग पहुंचे, लेकिन तब यह युवती दम तोड़ चुकी थी। बसई दतिया की रहने वाली 22 साल लड़की अपने भाई के साथ नाका चंद्रवदनी की पारस विहार कॉलोनी में रहती थी। वह एसआई बनना चाहती थी। रविवार की सुबह भाई जॉगिंग करने चला गया। जब वह लौटा तो बहन ने उसे सब्जी लाने भेज दिया।

भाई के बाजार जाते ही उसने एक कागज पर दो लड़कों रजनीश और अखिलेश का नाम लिखकर बताया कि इन दोनों ने पहले उसे फंसाया और बाद में बात करने से मना कर दिया। इसलिए अब मरने के अलावा कोई चारा नहीं रहा। यह लिखकर उसने घर में रखा देशी कट्टा निकाला और अपनी कनपटी पर रखकर गोली मार ली। अचानक कमरे से धमाके की आवाज आई, किसी पड़ोसी ने मकान मालिक को बताया, कि आवाज शायद किराएदार के कमरे से आई है।

कमरा अंदर से बंद देख मकान मालिक पहले लड़की के भाई को फोन कर उसे बुलाया। भाई ने कमरा खोला तो बहन की खून से लथपथ लाश बिस्तर पर दीवार से टिकी मिली। बहन की हालत देख कर वह बेसुध हो गया, इस पर मकान मालिक ने पुलिस को सूचना दी, साथ ही मंगल के चाचा भान सिंह को भी भतीजी के सुसाइड की सूचना दी।

लाइव इंडिया डॉट लाइव के अनुसार सुसाइड नोट में लड़की ने अपने भाई को लिखा है कि उसकी मौत के लिए उसके ही गांव का रजनीश रजक और पांडरी गांव का अखिलेश जिम्मेदार हैं।

पुलिस को मिले सुसाइड नोट में लिखा है- रजनीश ने पहले दोस्ती के बढ़ाई, और धोखा दे दिया, अब कह रहा है कि बात मत करो, जो हुआ सब भूल जाओ। रजनीश ने ये सब घर पर बताने से मना किया, और बताने पर जान से मारने की धमकी भी दी थी, इसलिए वह जान दे रही है।

उधर पुलिस भी जांच करने पहुंच गई। फोरेसिंक एक्सपर्ट ने वहां से सैंपल एकत्र किए, लेकिन वह देशी कट्टा नहीं मिला, जिससे लड़की ने सुसाइड किया था। पुलिस इस गायब कट्टे को खोजने में लगी है। भाई का कहना है कि उसकी बहन ने इस बारे में कभी बताया नहीं और वह ज्यादा कुछ नहीं जानता है।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post