Latest News

Saturday, 3 September 2016

बिलखती रही छेड़छाड़ पीड़िता एथलीट,भाजपा नेता ठहाके मारते दिखे


वाराणसी/इलाहाबाद. यह तस्वीर आपको विचलित कर सकती है। कारण नारी अस्मिता की रक्षा के नाम पर उसी का उपहास कैसे किया जाता है, यह साफ इस तस्वीर में दिख रहा है। तस्वीर आईजी कार्यालय इलाहाबाद की है। मंगलवार को भाजपा नेताओं ने छेड़छाड़ के मामले में आरोपी युवक की गिरफ्तारी को लेकर प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन के दौरान किसी भी चेहरे पर शिकन नहीं थी, बल्कि प्रदर्शन कम हूटिंग अधिक लग रही थी। तथाकथित बीजेपी नेताओं के चेहरे पर आक्रोश नहीं बल्कि हास्य भाव थे। इस दौरान पीड़िता एथलीट बिलखती नजर आई। किसी ने इस दौरान इनकी तस्वीर ली और फिर सोशल मीडिया पर शेयर कर दी। पत्रिका ने पूरे घटनाक्रम की पड़ताल की और पता लगाया कि ये तथाकथित नेता हैं कौन।

तस्वीर में नीले रंग के कुर्ते में बीजेपी नेता व इलाहाबाद विश्वविद्यालय के पूर्व छात्रसंघ नेता सुरेंद्र चौधरी हैं, जो प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे थे।
उनसे सटे हुए पीले कुर्ते में दिनेश यादव हैं, जिनकी हंसी रुकने का नाम नहीं ले रही है। ये भी इलाहाबाद विवि के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष हैं और वर्तमान में नवाबगंज विधानसभा क्षेत्र से टिकट के प्रबल दावेदार। इनके साथ जिन चेहरों पर शर्मनाक हंसी है वे भी भाजपा के कार्यकर्ता हैं।

यह हुआ प्रदर्शन के बादआईजी कार्यालय के अनुसार भाजपा नेता पीड़िता के साथ मंगलवार शाम आए थे। इन्होंंने आरोपी की गिरफ्तारी की मांग की। जाते समय ये हूटिंग करने लगे। प्रदर्शन के दौरान ये अभद्र हरकतों पर उतर आए थे।
ये है पूरा मामलाइलाहाबाद की रहने वाली एक एथलीट एक सप्ताह पहले मऊआइमा थाना क्षेत्र न्यायिक काम से गई थी। वहां से लौटते समय उसे देर हो गई। तभी उधर से उसका एक दोस्त आते दिखा। यह एथलीट उसके साथ ही इलाहाबाद आने लगी। रास्ते में दोस्त के घर से फोन आया और वह रास्ते में ही रुककर बात करने लगा।
इसी दौरान एक अन्य परिचित वहां गुजर रहा था। उसने फिर एथलीट को इलाहाबाद छोड़ने का आश्वासन दिया। रास्ते में इस दौरान कथित तौर पर तीन लोगों ने छेड़छाड़ की। इसी दौरान एथलीट ने मऊआइमा थाने में फोनकर घटना की जानकारी दे दी, जिसके बाद पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया। बाद में एथलीट ने पुलिस थाने में आवेदन दिया कि उसकी नवंबर में शादी है और वह मामले को आगे नहीं बढ़ाना चाहती। इसपर पुलिस ने मुकदमा नहीं दर्ज किया।
फिर चढ़ा सियासी रंगइस घटना की जानकारी जब भाजपा नेताओं को हुई तो उन्होंने इसे सियासी रंग देने की कोशिश की। एथलीट से एक मुस्लिम युवक के खिलाफ मऊआइमा थाने में आवेदन दिलाया गया। पुलिस ने इसके बाद आईपीसी की धारा 354, 376, 511, 506 के तहत मुकदमा दर्ज कर आरोपी की गिरफ्तारी के प्रयास तेज कर दिया।
मामले को हिंदू-मुस्लिम करने की साजिश रची जा रहीपुलिस के अनुसार मामला इतना बड़ा नहीं है कि उसे राजनीतिक रंग दिया जाए। पुलिस अपनी कार्रवाई कर रही है। पहले भी गिरफ्तारी की थी और अब भी प्रयास कर रहे हैं। भाजपा नेता इसे हिंदू-मुस्लिम रंग देना चाहती है।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post