Latest News

Saturday, 8 October 2016

मुरादाबाद - डीएम ज़ुहैर बिन सगीर की सराहनीय पहल, 1742 गरीब बच्चों का कराया बड़े स्‍कूलों में एडमिशन



मुरादाबाद। निशुल्क और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के अर्न्तगत गरीब बच्चों को सोसायटी के अच्छे स्कूलों में प्रवेश कराकर उनको राष्ट्र की मुख्य धारा से जोड़़ने के क्रम में मुरादाबाद जनपद के 1742 बच्चों को अच्छे स्कूलोंं में एडमिशन करा दिया गया है। बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम में प्रवेश पाए इन बच्चों को किसी भी प्रकार की कोई फीस नहीं देनी पडेगी। अगले वर्ष 17000 बच्चोंं को प्रवेश दिलाने का लक्ष्‍य है।

जिलाधिकारी जुहैर बिन सगीर ने प्रेस वार्ता में कहा कि मुरादाबाद के ये बच्चे बेहद गरीब हैंं और सरकारी स्कूलोंं में शिक्षा ग्रहण करते थे। इन बच्चों को ये मौका मिला है कि ये भी कान्वेन्ट स्कूलो में अन्य बच्चों की भांति शिक्षा ग्रहण कर सकेंं और समाज में अच्छा जीवन व्यतीत कर सकें।

इन बच्चों के माता-पिता बेहद गरीब हैंं और बच्चों की फीस नहींं भर सकते हैं इसलिए सरकार ने निर्णय लिया कि ऐसे बच्चों को अच्छी शिक्षा का मौका मिलेगा। 450 रुपये प्रति छात्र की दर से इन बच्चों की स्कूलोंं में फीस अनुदान भेज दिया जाएगा। बच्चोंं और इनके अभिभावकों से कोई पैसा नहीें लिया जाएगा। मुरादाबाद के इतिहास में आज यह नया अध्याय जुड़़ गया है। उन्‍होंने कहा कि ऐसे माता-पिता, जिनकी आय एक लाख रुपये से अधिक नहीं है, वे भी इस योजना में शामिल होंगे।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post