Latest News

Saturday, 1 October 2016

बड़ा सवाल-अखलाक के घर से भेजा गया 2 किलो मीट का सैंपल अस्पताल में 5 किलो कैसे हो गया?





 नई दिल्ली।  साल भर पहले हुआ था दादरी कांड. अखलाक को कथित तौर पर बीफ रखने की सजा भीड़ ने दी थी. मौत की सजा. पीट कर मार डाला था. लपेटे में आ गया था अखलाक का बेटा भी. जो इस हमले में बच गया. लेकिन एक साल पूरे होने के बाद भी मामला उलझा हुआ है।

न ही ये साबित हुआ कि बीफ अखलाक के घर में मिला था या कहीं और से।  और वो गोमांस था भी कि नहीं. बात फैलाई गई थी कि वो फ्रिज से मिला. रिपोर्ट में लिखा कि कहीं और से मिला।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक जर्चा थाने में तैनात लोगों का बयान अलग है. जिन्होंने सैंपल सीज किया था. सीजर रिपोर्ट के हिसाब से थानेदार एसके सिंह, हेड कान्स्टेबल अमरीश और कान्स्टेबल राजेश्वर ने बीफ के टुकड़े अखलाक के घर से आधे किलोमीटर दूर बरामद किए थे. एक ट्रांसफॉर्मर के पास. ये सीजर रिपोर्ट पिछले साल 29 सितंबर को रात एक बजे तैयार की गई थी. अखलाक पर हमला होने के कुछ घंटों बाद।

उससे भी बड़ा घपला है सैंपल के वेट और साइज में. पुलिस ने जो सीजर रिपोर्ट तैयार की है उसमें लिखा है- मीट मिला- 2 किलो, चार पैर, घुटनों के नीचे का हिस्सा, खोपड़ी और छाती की खाल।

दादरी के जानवर अस्पताल, जहां सबसे पहले जांच के लिए सैंपल गया था. उनकी रिपोर्ट में लिखा है कि मीट था 5 किलो।  2 से 5 किलो कैसे हो गया?

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post