Latest News

Saturday, 8 October 2016

हत्यारे राविन के परिवार से मुआवज़ा वापिस ले सपा सरकार : AIMIM




नई दिल्ली।  मीडिया में जारी ब्यान में मीम नेता अफ़ज़ल खान अफरीदी ने कहा मरहूम अख़लाक़ के हत्यारे राविन के परिवार से मुआवज़ा वापिस ले सपा सरकार क्योंकि अपराधी कि मौत चिकेनगुन्या से हुई है ना की जेल में किसी के मारने से और उसके घर वालों पे राष्ट्रीयध्वज के अपमान पे केस बुक करके उनकी गिरफ्तारी करे यूपी सरकार, एक हत्यारे कि लाश पे कैसे कोई तिरंगा लगा सकता है। यह शहीदों का अपमान है सरकार को सख़्त क़दम उठाना चाहिये लोगो के ख़िलाफ़ ताकि तिरंगे की गरिमा बनी रहे।

राविन के परिजनों का इलज़ाम था कि मुजरिम रवि बीमारी की वजह से नहीं बल्कि जेलर और जेल में बंद अन्‍य कैदियों की पिटाई से मरा है परिजनों का आरोप था उसकी हत्या की गई है लेकिन इस मामले में नया ट्विस्ट आ गया है।

राविन का एडीजे कोर्ट में इलाज के लिए दायर किया हुआ वो प्रार्थना पत्र वायरल हुआ जिसमें चिकनगुनिया होने की बात स्पष्ट रुप से कही गई है. आरोपी ने खुद ही उचित इलाज के लिए प्रार्थी को नोएडा के जिला अस्पताल में स्थानतरित किये जाने का प्राथना पत्र दिया था

राविन की मौत पर भाजपा खूब सियासी रोटी सेक रही है भाजपा के नेता गाँव में पहुचकर लगातार भड़काऊ स्पीच दे रहे है वही भगवा ब्रिगेड ने तो अख़लाक़ के हत्यारे के शव को तिरंगे में लपेटकर अंतिम संस्कार किया है।

गौरतलब है कि 2015 में गोहत्या के विवाद में दादरी से सटे गांव बिसाहड़ा में अखलाख को पीट पीट कर हत्या कर दी गई थी वही उसके बेटे मारा हुआ समझ के छोड़ गये थे. जिसको लेकर पूरे देश में बवाल हुआ था. जिसमे राविन भी मुख्य रूप से शामिल था।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post