Latest News

Thursday, 20 October 2016

सच लिखने पर पत्रकारों पर फर्ज़ी मुक़दमा, राज्यपाल तक पहुँचा मामला



मुरादाबाद/ ठाकुरद्वारा-उत्तर प्रदेश की अखिलेश सरकार में पत्रकारों के बुरे दिन शुरू हो गए हैं । पूरे प्रदेश में पत्रकार सुरक्षित नहीं हैं । कहीं रक्षक ही कलम के सिपाहियों के दुश्मन बने बैठे हैं, तो कहीं दबंग । कानून व्यवस्था में पूरी तरह फेल हो चुकी अखिलेश सरकार पत्रकारों की भी सुरक्षा नहीं कर पा रही है, आम आदमी की सुरक्षा का सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है । प्रदेश अपराधियों और पुलिस का गठजोड़ खूब फल- फूल रहा है। मामले मे काँग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश वाइस चेयरमेन व रामपुर विधानसभा से सम्भावित प्रत्याशी फैसल खान लाला ने राज्यपाल को पत्र लिखकर पत्रकारों पर हो रहे हमलों की उच्चस्तरीय जाँच कराने की मांग की है।

पत्र मे फैसल लाला ने कहा की मौजूदा समाजवादी की सरकार मे जनता,अधिकारी और यहाँ तक की राष्ट्र का चौथा स्तम्भ भी सुरक्षित नही हैं। समाजवादी हुक़ूमत मे प्रदेश भर मे गुण्डा राज चर्म पर है पत्रकारों को सच्चाई दिखाना भारी पड़ रहा है। पूर्व मे जनपद शाहजहाँपुर मे एक पत्रकार को मंत्री के जनविरोधी कार्यों के खिलाफ़ लेख लिखने पर उसको घर मे ज़िन्दा जलाकर मार दिया गया जिसके आरोप मंत्री सहित पुलिस पर भी लगे,लेकिन दोषियों को सरकार का संरक्षण होने की वजह से कोई कर्यवाही नही हुई।

इसी तरह एटा मे सम्पादक बब्लू चक्रवर्ती के साथ 16 अक्टूबर की रात कोतवाली सिटी के आठ सिपाहियों ने मारपीट व लूटपाट की।
अब जनपद मुरादाबाद के तीन पत्रकारों पर फर्ज़ी मुक़दमा दर्ज किया गया है। जिस शख्स ने फर्ज़ी मुकदमा दर्ज़ कराया वह कई बार अपराधिक मामलों मे जेल गया है उसके द्वारा सरे बाजार छात्राओं पर फब्तियां कसने के बाद लोगो ने उसकी पिटाई की। इसकी ख़बर कई अखबारों व न्यूज़ पोर्टल्स पर प्रकाशित हुई। छात्राओ पर फब्तियां कसने वाले युवक की झूठी तहरीर पर तीन पत्रकारों को दबाव मे लेने के लिए पुलिस ने फर्ज़ी मुक़दमा लिख दिया।

फैसल लाला ने प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक से प्रदेश की जनता और पत्रकारों पर हमलों की उच्चस्तरीय जाँच कराने के आदेश जारी करने की मांग की है।

पत्रकार हित मे आवाज़ उठाने की पत्रकारों ने की सराहना

ठाकुरद्वारा। गुरुवार को विधान केसरी कार्यालय पर हुई बैठक मे पत्रकारों ने कांग्रेसी नेता के पत्रकार हित मे आवाज़ उठाने की सराहना की वक्ताओं ने कहा की कांग्रेसी नेता ने ईमानदारी का साथ देते हुऐ सच्चाई को राज्यपाल तक पहुचाने का कार्य किया है। पत्रकारों ने कांग्रेसी नेता का आभार जताते हुऐ प्रदेश के अन्य राजनीतिक दलों से भी अपेक्षा की है कि वह भी सच्चाई का साथ देंगे। इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि यह चिंता की बात है की विधानसभा ठाकुरद्वारा क्षेत्र मे सत्तापक्ष के विधायक के होते हुऐ पत्रकारों के साथ हुई इस ज्यादती को जनपद रामपुर के कांग्रेसी नेता फैसल लाला ने इस मामले का संज्ञान लेते हुऐ पत्रकारों के हक़ की बात राजभवन तक पहुचाई है। उधर कांग्रेसी नेता ने ठाकुरद्वारा के पत्रकारों को भरोसा दिलाया है कि वह उनके हक़ के लिए आगे भी प्रयासरत रहेंगे।बैठक मे यामीन विकट,शमशेर मलिक,इरशाद अंसारी,देशरत्न चौहान,जहाँगीर कुरैशी,सलीम अहमद,वसीम कुरैशी,मोहम्मद अली,मोहम्मद फैज़ान,वसीम अब्बासी,दिलदार अली,ज़की अहमद,मुस्लिम अली,अनिल कुमार शर्मा,मोहम्मद शादाब,फैज़ुल हसन सैफी,उवेद वारसी,बाबू अंसारी,शहज़ाद सिद्दीकी,अज़हर मलिक,रोहिताश कुमार,अनूप कुमार आदि मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post