Latest News

Saturday, 15 October 2016

ख़ुद को देवी बताने वाली लड़की ने महिला को डायन बताकर बीच सड़क कपड़े फाड़े





 नई दिल्ली।  ओडिशा में अंधविश्वास के चलते महिला के साथ बर्बरता करने का एक मामला सामने आया है। यहां के गांववालों पर आरोप है कि उन्होंने महिला को डायन बताते हुए बीच सड़क उसके कपड़े उतार दिए और उसके साथ मारपीट की।

ओडिशा में अंधविश्वास के चलते महिला के साथ बर्बरता करने का एक मामला सामने आया है। यहां के गांववालों पर आरोप है कि उन्होंने महिला को डायन बताते हुए बीच सड़क उसके कपड़े उतार दिए और उसके साथ मारपीट की। पुलिस के मुताबिक ओडिशा के देवघर जिले के डेरापत्थर इलाके में बुधवार को झामू जतरा के दौरान खुद को देवी कालीसी बताने वाली एक लड़की ने गांव की एक महिला पर जादू-टोना करने का आरोप लगाया। नाबालिग लड़की ने पास के पेड़ से दाना (पत्ते से बना हुआ कप) लिया और महिला के घर की ओर गई। आरोपों विश्वास करके गांववाले भी उसके साथ मौजूद रहे। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

जनसत्ता में एशियन एज के हवाले से छपी खबर के मुताबिक महिला के घर के बाहर पहुंचकर लड़की ने उसे बुलाया और कहा कि तुम काला जादू करती हो और तुमने गांव के कुछ लोगों की जान ली है। लड़की की बात का विश्वास करते हुए गांववाले महिला के बाल पकड़कर उसे गांव की मुख्य सड़क पर ले गए। सैकड़ों लोगों की मौजूदगी में कुछ लोगों ने महिला पर अत्याचार किया, यहीं नहीं बाद में महिला की साड़ी उतार दी। गांववालों पर आरोप है कि उन्होंने लोगों रोका नहीं और इसके बाद में लोगों ने महिला के पूरे कपड़े फाड़ दिए। गुरुवार को पीड़ित महिला चौकीदार के साथ थाने पहुंची और पुलिस में अपनी आपबीती सुनाई। पुलिस ने इस मामले में महिला की शिकायत दर्ज कराकर जांच शुरू कर दी है।

बारकोटे पुलिस थाने के इंस्पेक्टर ब्रह्मानंद पात्रा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। भारतीय दंड संहिता की धारा 448, 294, 323, 354, 506/34 मामला दर्ज किया गया है। इससे पहले भी कई बार इस तरह के मामले सामने आ चुके हैं।हाल ही में राजस्थान में डायन बताकर महिला का उत्पीड़न करने का एक मामला सामने आया था। आरोपी शख्स ने एक विधवा महिला को डायन बताकर उसके साथ रेप किया था। पीड़िता को पुलिस को शिकायत नहीं देने की हिदायत देते हुए आरोपी ने उसे जान से मारने की धमकी दी।

-सांकेतिक तस्वीर।

No comments:

Post a Comment

Tags

Recent Post